School Sex

स्कूल सेक्स चुदाई की कहानियाँ : कॉलेज / क्लास ट्यूशन में चुदाई – Sex Stories

सेक्स, क्लास में अश्लील चुदाई की कहानी School Sex Stories, Antarvasna, Kamukta
कॉलेज tuition, classroom class me chut chudai ki kahani.
School Sex
कौशल एक बहोत ही नेक लडका।वोह अपने जीवन मे परेशान नह था।एकदम दिलखुश ईन्सान था।उसकी लाईफ मै बहोत सारे दोस्त थे वोह सबके साथ अच्छे से रहता था।उसका भोले मिजाज को सबने मजाक बना रखा था।सब उसका मजाक उडाते थे।
एक बार कौशल को प्यार हो गया।एक खुबसुरत हसीन सी परी जैसी दिखने वाली लडकी से,उसका नाम शर्मीला था।कौशल उसे बहोत चाहने लगा था।वोह अपना पुरा वक्त उसे फाॅलो करने मे गुजार देता।उसके खयालो मे डुबा रहता।रातभर उसे सोचता।
एक न एक दिन शर्मीली का प्यार उसे मिल जाऐगा ऐसा मन मे ही रटता।अपने दोस्तो से उसकी बाते करता।उसकी पुरी झ
जानकारी निकालता।मानो वो उसे प्यार कम और उसके पीछे भागने वाला एक निकमा आशिक हो गया था।वोह शर्मीली से बार बार मिलता उसे प्यार का ईझहार भी करता।शर्मीला उसे बात सुन लेती मगर अपने अंदर का प्यार जाहीर नही करती।
उसके दोस्त उसे समझाकर थक गये थे कि शर्मीली जवान हो गई है उसे तुम्हारे तगडे नौजवान से और कुछ नही सिर्फ अपनी जवानी कि ज्वाला थंडी करवानी होती।वैसै तो मर्दो की कोई और एहमियत नही है औरतो कि जिंदगी मे।वोह अपने उपर किसीका बोझ नही उठाती।तुम उसपर बोझ बनने से पहले उसको ठिखठाक से अपना लो और उसकी मदहोश जवानी की भुलभुलैया मै अपना घर बनालो।लेकिन हुआ उलटा कौशल तो बस उसे एक नेगिटीव थाॅट समझकर अपना समय और पैसा शर्मीली के प्यार मे खर्च किये जा रहा था।शर्मीली परेशान होने लगी उसकी ऐसी हरकतो कि वजह से,और एक दिन उसकी कुछ सहेलियो ने उसे बात करने बहाना ढुंढ लिया।
शर्मीली अपने सहेलियोंको अपनी अंतरवासना शेअर करती थी।उनसे कौशल होता हुआ मजाक देखा नही जा रहा था।
शर्मीली कि सहेलिया शर्मीला का परदा फाश करने के लिए कौशल के पास आई उन्होने कौशल को बताया वोह तुमसे कुछ प्यार व्यार नही करती।वोह बस जवान हो चुकी अपने जीस्म मे उठी चिगारी से वोह सारे लडको को जलाते जा रही है।सुलगाते जा रही है।तुम उसकी आग के जपेट मे मत आओ कौशल वरना तुम्हारा भी प्यार झुठा हो जायेगा।ऐसा बताकर उसकी सहेलिया चली गई।
कुछ दिन  बाद कौशल उसे फाॅलो कर रहा था।शर्मीली एक बडे से घर मे घुस गई।कौशल भी उसकी दिवार लांघकर घर मे घुस गया।आगे जो हुआ वोह न वो किसी को बताने के जैसा था न ही देखने जैसा।
शर्मीली उन अमीर लडके की बाहो मे बैठी थी।वोह उसके बालो मे अपनी डालकर उसे हलके से उसकी कामवासना खुला रहे थे।फिर शर्मीली को उसने किस किया।अपने दोनो हाथ उसकी पहाडो जैसी रिॅकिंग गांड के उपर रखे हुअ थे।कौशल यह सब देख रहा था।शर्मीली उस लडके के आगे नाचने लगी।अपनी कमर हिला हिलाकर उस लडके को खुश करने लगी।फिर उस लडकेने खुदके कपडे उतारे।उसके साथ नाचने लगा।उसकी गांड पर अपना लवडा रगडने लगा।शर्मीली झुक जाती तो उसकी चुत पर पहनी पॅन्टी पर अपना लंड घुमाता।
नाचते नाचते शर्मीलीने अपनी एक टांग झटसे उस लडके के कांधो तक रखी नजरा बहोत गर्म हो चुका था।
फिर उस लडकेने अपनी होंठो मे शर्मीली के होंठ ले लिए,उसकी टांग पकडी चुमी करता गया।फिर दुसरे हाथ से शर्मीली कि पॅन्टी को साईड मे किया और अपना लंड उसमे घुसा दिया।और शर्मीली के काले घने बालो को खिचा।शर्मीलो होंठो उफ्फ कि आह निकली।
अब वो लडका उसे चोडने लगा।उसकी सहशाॅर्ट ड्रैस उपर खिच ली शर्मीली कि टांग को खडे खडे चाटने लगा।उसकी स्तनो पर अपने मर्दाना हाथ फिरता और दबाता।उसके निप्पल उसे उकसा रहे थे तो फिर उसने अपनी उंगलीये से दबाना शुरू किया।कौशल बाहर से यह नजारा देख दंग रह गया।फिर शर्मीली ने अपनी टांग निचे की उसने लडके को सोफे पर बिठाया।उसका उसकी चुत मे भिगा हुआ लंड अपनी मुॅह मे लिया और अपनी चुत के सुगंधीत द्रव्य को चाखने का मजा लिया।
उस लडके कि चेहरे पर जो सुकून था वोह लाजवाब था।क्योकि शर्मीले के मुॅह मे उसने दिया अपना कबाब था।शर्मीली का शबाब था।कौशल खिडकी से झाकते हुअ अपना लंड अपनी हाथ मे लेकर हिलाने और मुठ मारने लगा अपने टुटे हुअ दिल से।
शर्मीली ने बडी जोरो शोरो से उसका लंड चुसने लगी।लडके कि तो शामत आई उसके मुॅह से आवाज निकलने लगी।लाकिन ये आवाज उसके उसके पसंदीता दर्द कि थी जो वोह खुद अपनी कानो सुनना चाहता हो ऐसै सिसकिया ले रहा था।फिर अचानक से उसने शर्मीली को उठाकर अपनी जांघो पर पैर फैलाये बिठाया और उसकी चुत मे लंड डाला फिर उसकी पीठ को पकडकर निचे से जोर जोर से चुत ने लगा।ईतनी जोर से चौदता कि शर्मीली कि आवाज निकल ज्याती।ऐसा होता देख कौशल वहां से निकल गया।
अभी ईन दोनो का सेक्स पुरा हुआ नही था।
उस लडकेने शर्मीले के सोफेपर ही लेटाया उसकी दोनो टांगे पकडी उपर उठाई ईतनी उपर उठाई कि उसकी गांड का होल दिखने लगे।और फिर उसने शर्मीली कि गर्मसी गांड मे अपना लंड दिया।फिर और क्या होना था उस चुतीया चुदकड लडकैने शर्मीली कि पुरी खटिया खडी कर दी।
चोदता गया चोदता गया शर्मीली अब बहोत जोर से चिलाने लगी धीरे करो धीरे करो लेकिन वो थोडीही रूकने वाला था जब तक उसका गल न जाये।
शर्मीली अपनी टांगे उपर कर लेटी ही उसने उसी अवस्था मे अपने पाॅव पकड लिये और लडका चोदता रहा।कुछ देर बात अचानक से उसने अपना लंड बाहर निकाला फिर देखा उसकी गांड का होल ईतना बडा बना था कि वो यकीन नही कर पा रहा था।
फिर लडकेने उसकी चुत मे पास ही मे रखी ऑईल की डिब्बी थोडासा ऑईल डाला और शर्मीली कि गांड की गर्मी मे नर्मी लाई।
फिर उस लडकेने अपनी लंड से उछल पडे स्पर्म को शर्मीली कि चुत पर डाल दिया और खुदके स्पर्म पीने लगा उसने वोह स्पर्म उठाकर शर्मीली के मुॅह मे दे दिये।शर्मीली उसका स्पर्म पीकर बस उंगलिया चाटती रह गई।
कौशल तो मानो टुट गया।उसने वही पर खडे खडे अपने स्पर्म मुत दिया।उसका लंड भी शर्मीली से रूठ गया।