Solution of early discharge problem in hindi

अक्सर कहा जाता है कि सेक्स के दौरान पुरुष लिंग का साइज मैटर नहीं करता, लेकिन कभी महिलाओं से इस बारे में पूछा है? छोटे लिंग की वजह से एकरस, नीरस और औपचारिक यौन जीवन जीने के बावजूद महिलाएं कभी कुछ नहीं कहती तो इसका मतलब यह नहीं है कि उनके लिए यौन आनंद का कोई मतलब ही नहीं है! वह भी उत्‍कृष्‍ट यौन सुख चाहती हैं, लेकिन अपने लज्‍जालु स्‍वभाव और संस्‍कार की वजह से शायद कुछ बोल नहीं पातीं। पश्चिम की महिलाएं इस पर खुलकर जुबान खोल रही हें, ये अलग बात है कि संभोग के लिए उपयुक्‍त लिंग-योनि के सम्मिलन की पहली सोच इसी भारतवर्ष के आचार्य वात्‍स्‍यायन ने अपनी पुस्‍तक ‘कामसूत्र’ में दी थी। वात्‍स्‍यायन ने योनि की गहराई और लिंग की लंबाई के आधार पर स्‍त्री-पुरुषों को कई श्रेणियों में बांटा और उसी अनुरूप शादी करने का सुझाव दिया है ताकि आगे चलकर दोनों का दांपत्‍य जीवन सुखद रह सके। आस्‍ट्रेलिया में हुए हालिया शोध ने दर्शा दिया है कि महिलाओं के सुखमय यौन जीवन में पुरुष लिंग की लंबाई बेहद मायने रखती है…!

लिंग की लंबाई और स्त्री योनि की गहराई का सही तालमेल जरूरी
आस्ट्रेलिया में हाल में हुए एक सेक्स रिसर्च के बाद यौन विशेषज्ञों ने माना है कि ‘कामसूत्र’ ने जो उस काल में कहा था, वो इस समय भी उतना ही सच है। संभोग के दौरान पुरुष लिंग की लंबाई और स्त्री योनि की गहराई का यदि सही तालमेल नहीं है तो एक दंपत्ति का पूरा वैवाहिक जीवन असंतोष, कुंठा और कड़वाहट में बीतता है!
यौन शोध का तरीका
आस्ट्रेलिया में मनोवैज्ञानिकों के एक दल ने महिलाओं की नजर से उनके यौन साथी को लेकर रिसर्च किया, जिसमें महिलाओं को उनके सेक्स पार्टनर की तस्वीरों को कंप्यूटर की सहायता से 49 विभिन्न आकारों में दर्शा कर दिखाया गया। इसमें महिलाओं के सेक्स पार्टनर के शरीर की लंबाई,  नितंब व कंधे की चौड़ाई का अनुपात और पेनिस के साइज को विभिन्न आकार प्रदान किए गए थे। महिलाओं से कहा गया कि वह उन 49 तस्वीरों में अपने सेक्स पार्टनर को देखें और एक से सात नंबर के बीच हर तस्वीर को नंबर दें। सर्वे में शामिल 105 महिलाओं को बिल्कुल अकेला छोड़ दिया गया ताकि किसी भी तरह से उनके विचारों को कोई प्रभावित न कर सके।
सर्वे में शामिल होने वाली इन महिलाओं की औसत उम्र 26 साल थी। बाद में इस शोध के निकले निष्कर्ष को National Academy of Sciences (PNAS) में प्रकाशित किया गया है। एक लाइन में कहा जाए तो इस यौन शोध का निष्कर्ष है, ” महिलाएं पुरुषों के लिंग साइज से प्रभावित होती हैं। बड़ा लिंग उन्हें आकर्षित करता है और उनके अंदर ‘यौन सुख’ का भाव पैदा करता है।”
पुरुष लिंग का आकार महिलाओं को आकर्षित करता है
शोध दल के प्रमुख ब्रेन मॉट्ज ने एनबीसी न्यूज को दिए अपने एक साक्षात्कार में कहा कि शोध का नतीजा दर्शाता है कि ‘पुरुषों के लिंग का आकार महिलाओं को आकर्षित करता है।’ उनके अनुसार, वैज्ञानिक रूप से किसी भी महिला के यौन जीवन में उनके पुरुष साथी के लिंग की लंबाई और उसकी मोटाई (overall length and girth) महत्वपूर्ण असर डालता है। मनोवैज्ञानिक रूप से वह खुद को संतुष्ट पाती है। पढि़ए आचार्य वात्‍स्‍यायन ने कामसूत्र में लिंग की लंबाई व योनि की गहराई के आधार पर पुरुष-स्‍त्री को कितने श्रेणियों में बांटा है
65 फीसदी महिलाएं सुखद संभोग के लिए लिंग के साइज को मानती हैं महत्‍वपूर्ण
महिलाओं ने कंप्यूटर द्वारा बनाए गए अपने सेक्स पार्टनर की तस्वीरों को देखकर जो नंबर दिए उनके मुताबिक वह अपने पार्टनर को अधिक लंबा, चौड़े कंधे-पतले नितंब और लंबे लिंग वाले पुरुष के रूप में देखना चाहती हैं। शोध दल के अनुसार, अधिकांश महिलाओं ने सवालों के दिए जवाब में यह कहा कि यदि उनके पुरुष साथी के लिंग की लंबाई और मोटाई किसी भी तरह थोड़ा और बढ़ जाए तो वह उन्हें और अधिक आकर्षित करेगा और उनके यौन जीवन को संतुष्टि प्रदान करेगा।
महिलाओं का मानना था कि लंबा लिंग उन्‍हें रोमांचित करता है। इससे पहले भी 19 से 62 वर्ष तक की 176 महिलाओं से साथ किये गए एक दूसरे सर्वे में 65% महिलाओं ने माना था की सुखद संभोग के लिए लिंग का आकार बहुत महत्व रखता है।
बड़ा लिंग महिलाओं को चर्मोत्कर्ष पर ले जाने में सहायक है
Emory University neuroscientist Larry Young और Mautz ने मिलकर एक पुस्तक लिखी है, नाम है: ‘ The Chemistry Between Us: Love, Sex and the Science of Attraction.’ इस पुस्तक के अनुसार, लिंग का बड़ा आकार महिलाओं को चरम आनंद यानी ऑर्गेज्म की अवस्था तक आसानी से पहुंचा सकती हैं। उनके अनुसार, big human penis evolved into a tool meant to stimulate both the vagina and cervix as a way trigger the release of oxytocin in a woman’s brain, activating bonding circuits. यानी पुरुष का बड़ा लिंग महिलाओं की योनि (vagina) को तो उत्तेजित करता ही है, वह गर्भाशय ग्रीवा (cervix) अर्थात गर्भाशय के मुंह तक पर आघात करता है, जिससे महिलाएं आनंद से भर उठती हैं। योनि व गर्भाशय ग्रीवा पर एक साथ हुए आघात से महिलाओं के मस्तिष्क से ऑक्सीटॉक्सिन का स्राव होता है, जो एक वर्तुल का निर्माण करता है, जिससे महिलाओं को चर्मोत्‍कर्ष यानी ऑर्गेज्म की प्राप्ति होती है।
भारतीय पुरुषों के लिंग की औसत लंबाई महज 4 ईंच !
ब्रिटिश वैज्ञानिक रिचर्ड लिन ने पुरुष लिंग के आकार पर एक शोधपत्र प्रकाशित किया था। इस शोध में 113 देशों के पुरुषों के पेनिस के साइज का विश्लेषण कर एक सूची तैयार की गई है। इस सूची में भारत 110वें स्थान पर है। सूची में 7.1 इंच के औसत आकार के साथ कांगो के पुरुष सबसे ऊपर है। भारतीय पुरुषों के लिंग का औसत आकार 4 इंच है। यही वजह है कि भारतीय बाजार में मिलने वाले कंडोम पुरुषों के लिंग के साइज के अनुपात में बड़े होते हैं।

लिंग का आकार बढ़ाने के लिए अपना सकते हैं ये उपाय
Penis Enlargement in Hindi| पेनिस एनलार्जमेंट यानी लिंग का आकार बढ़ाने के लिए किसी दवा आदि के लेने की जगह फिजियोथेरेपी तकनीक पर काम करने वाला पंप पूरी दुनिया में अधिक कारगर साबित हो रहा है। वैक्‍युम तकनीक पर आधारित इस पंप के द्वारा प्रतिदिन सुबह-शाम 15 मिनट लिंग का एक्‍सरसाइज करने से लिंग की लंबाई 90 दिन में डेढ से दो ईंच तक बढ़ जाती है।

दुनिया भर के पुरुषों के लिंग का औसत आकार
रिपब्लिक ऑफ कांगो – 7.1 इंच| इक्वाडोर- 7 इंच| घाना – 6.8 इंच| कोलंबिया – 6.7 इंच| आइसलैंड – 6.5 इंच| इटली – 6.2 इंच| दक्षिण अफ्रीका – 6 इंच| स्वीडन – 5.9 इंच| ग्रीस – 5.8 इंच| जर्मनी – 5.7 इंच| न्यूजीलैंड – 5.5 इंच| ब्रिटेन – 5.5 इंच| कनाडा – 5.5 इंच| स्पेन – 5.5 इंच| फ्रांस – 5.3 इंच| ऑस्ट्रेलिया – 5.2 इंच| रूस – 5.2 इंच| यूएसए – 5.1 इंच| आयरलैंड – 5 इंच| रोमानिया – 5 इंच| चीन- 4.3 इंच| भारत – 4 इंच| थाइलैंड – 4 इंच| दक्षिण कोरिया – 3.8 इंच| उत्तर कोरिया – 3.8 इंच

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *